फरीदाबाद । दुकानदारों की समझदारी से और एक व्यक्ति की बहादुरी से नकली नोट चलाने वाला एक व्यक्ति पकड़ा गया। दुकानदारों ने फजर नाम के आरोपित को थाना एसजीएम नगर के अंतर्गत आने वाली पुलिस चौकी नंबर 3 को सौंप दिया। आरोपित का एक अन्य साथी भागने में सफल रहा। पकड़े गए आरोपित से 200-200 रुपये के तीन नकली नोट बरामद किए गए हैं, जबकि पांच नोट दुकानदारों ने पुलिस को सौंपे।

रविवार की देर शाम को फजर और उसके साथी ने दुकानदार रोशन सिंह से फैन, कन्फेक्शनर राकेश मेहंदीरत्ता से फ्रूटी, बवेजा कंस्ट्रक्शन से दूध की थैली, होजरी विक्रेता किशन मेंहदीरत्ता से बनियान और मुकेश नामक एक अन्य दुकानदार से दूध की थैली खरीदी। इसके बदले में दुकानदारों को 200 रुपये के नोट दिए गए।

दुकानदारों ने अपने माल की कीमत काट कर बाकी रुपये वापस कर दिए। इसी दौरान एक दुकानदार ने अपना शक दूर करने के लिए पड़ोसी दुकानदार के पास जाकर उसे नोट जांचने के लिए कहा। जब दोनों दुकानदारों ने नोटों की जांच की तो उनके नंबर एक ही तरह के थे और जब गौर से नोटों को जांचा परखा गया तो यह नकली मिले। इसके बाद तो शोर मच गया और आसपास नकली नोट चलाने वालों की तलाश शुरू हो गई है।

रवि नामक एक युवक ने तीन नंबर सी ब्लॉक के पास दोनों आरोपितों को दुकानदारों से हासिल किए गए असली नोटों का आदान प्रदान करते हुए पाया और हिम्मत कर एक को पकड़ लिया जबकि दूसरा आरोपित जो मोटरसाइकिल पर सवार था वह भाग निकला। दुकानदारों ने पकड़े गए बदमाश को नजदीकी स्थित पुलिस चौकी नंबर 3 को सौंप दिया। प्रारंभिक पूछताछ में आरोपी ने अपना नाम फजर बताया।

आरोपित की तलाशी लेने पर उसके पास 200-200 के तीन नोट और बरामद हुए जबकि 5 नोट दुकानदारों ने पुलिस को सौंपे। इनमें चार नोट 4CB-136318 नंबर के, दो नोट 3GL-501258, एक-एक नोट 6GW-068236 व 9DM 593896 नंबर के है। देर रात 11: 15 बजे पुलिस दुकानदारों के बयान के आधार पर मुकदमा दर्ज करने की कार्रवाई में जुटी हुई थी।